Tuesday, November 30, 2021
No menu items!
HomeNEWSNational NewsToolkit Case: relief to Shantanu Muluk, arrest arrested till March 9

Toolkit Case: relief to Shantanu Muluk, arrest arrested till March 9

 
किसान आंदोलन को वैश्विक तौर पर फैलाने के लिए टूलकिट बनाकर ट्विटर स्टॉर्म लाने के आरोपी बनाए गए शांतनु मुलुक की अग्रिम जमानत पर सुनवाई के दौरान गुरुवार को दिल्ली पुलिस ने अपना जवाब दाखिल करने के लिए और समय मांगा।इस पर अदालत ने इस मामले की अगली सुनवाई 9 मार्च तक के लिए टाल दी है और दिल्ली पुलिस को निर्देश दिया है कि तब तक वह शांतनु के खिलाफ कोई सख्त कार्रवाई न करे। इस तरह शांतनु को गिरफ्तारी से नौ मार्च तक के लिए राहत मिल गई है।

 

बुधवार को अदालत ने मांगा था दिल्ली पुलिस से जवाब
अदालत ने तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के विरोध प्रदर्शन के सिलसिले में सोशल मीडिया पर शेयर की गई टूलकिट मामले के सह-आरोपी शांतनु मुलुक की अग्रिम जमानत अर्जी पर पुलिस से जवाब मांगा था।

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश धर्मेंद्र राणा के समक्ष अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई से पूर्व ही सरकारी वकील इरफान अहमद पर सुनवाई स्थगित करने का आग्रह करते हुए फिजिकल सुनवाई करने का आग्रह किया था। इसके अलावा उन्होंने बताया कि जो अधिकारी आज उपलब्ध नहीं हैंं उनकी उपस्थिति में ही सुनवाई की जाए।

वहीं शांतनु की ओर से पेश अधिवक्ता सरीम नावेद ने अदालत को बताया कि मुंबई हाईकोर्ट ने शांतनु को 10 दिनों के लिए अग्रिम जमानत दे दी थी जो 26 फरवरी 2021 तक प्रभावी है। उन्होंने कहा कि इसके बाद दिल्ली पुलिस उनके मुवक्किल शांतनु को गिरफ्तार कर सकती है। ऐसे में जमानत पर जल्द सुनवाई की जाए।

अदालत ने उनके आग्रह को स्वीकार कर अभियोजन पक्ष को गुरुवार को ही अपना पक्ष रखने का निर्देश दिया था। शांतनु अन्य सह आरोपी निकिता जैकब के साथ टूलकिट एफआईआर के संबंध में सोमवार से जांच में शामिल हुए हैं। इस मामले में आरोपी दिशा रवि को अदालत ने सोमवार को ही जमानत पर रिहा किया था।

The Delhi Police on Thursday sought more time to file its reply during the hearing on anticipatory bail of Shantanu Muluk, accused of bringing Twitter storm by creating a toolkit to spread the peasant movement globally.

 

On this, the court postponed the next hearing of the case till March 9 and directed the Delhi Police not to take any strict action against Shantanu till then. In this way, Shantanu is relieved from his arrest till March 9.

On Wednesday, the court asked for a reply from Delhi Police

The court sought a response from the police on the anticipatory bail application of Shantanu Muluk, co-accused in the toolkit case shared on social media in connection with farmers’ protests against the three agricultural laws.



Before the hearing of the anticipatory bail plea before Additional Sessions Judge Dharmendra Rana, the government lawyer Irfan Ahmed was requested to adjourn the hearing and put a physical hearing. Apart from this, he told that the hearing should be done only in the presence of officials who are not available today.

At the same time, advocate Sarim Naved, appearing for Shantanu, told the court that the Mumbai High Court had granted Shantanu an anticipatory bail for 10 days which is effective till 26 February 2021. He said that after this Delhi Police can arrest his client Shantanu. In this case, bail should be heard soon.
The court accepted his plea and directed the prosecution to present its case on Thursday itself. Shantanu has been involved in the investigation since Monday in connection with the toolkit FIR along with other co-accused Nikita Jacob. Disha Ravi, an accused in the case, was released on bail on Monday by the court.

https://www.drmilind.com/2021/02/height-kaise-badhaye%20.html

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

%d bloggers like this: