Tuesday, October 26, 2021
No menu items!
HomeNEWSNational NewsFASTag: आज रात से वाहनों के लिए जरूरी होगा ये स्टीकर, जानिए...

FASTag: आज रात से वाहनों के लिए जरूरी होगा ये स्टीकर, जानिए इससे जुड़े अहम सवालों के जवाब

 

सोमवार रात से आप अगर लंबी दूरी के रोड ट्रैवल पर निकल रहे हों तो गाड़ी में FASTag होना जरूरी होगा. इतने प्रचार-प्रसार के बावजूद अगर आपने अभी तक इसे नहीं लगवाया है तो फौरन FASTag लगवा लीजिए. क्योंकि बाहर निकलने की जरूरत कभी भी और किसी को भी पड़ सकती है. ऐसे में FASTag नहीं होने पर इसका सीधा असर आपकी जेब पर पड़ेगा क्योंकि ऐसा न होने पर दोगुना टैक्स देना होगा. बड़े काम की इस कागज को गाड़ी में लगवाने के लिए सिर्फ ड्राइविंग लाइसेंस (DL) और वाहन के रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट की जरूरत पड़ती है. इनकी कॉपी देकर आप फास्टैग होल्डर बन सकते हैं. तो आइए आपको बताते हैं अब आपके काम के 10 जरूरी सवालों के जवाब. 

1.कैसे काम करता है FASTag?
FASTag एक स्टीकर होता है जो वाहनों के विंडस्क्रीन पर लगाया जाता है. टोल पर क्रॉसिंग के दौरान डिवाइस रेडियो फ्रिक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन टेक्नोलॉजी की मदद से टोल प्लाजा पर लगे स्कैनर से कनेक्ट होता है और फिर FASTag से जुड़े अकाउंट से पैसे कट जाते हैं. जिससे टोल प्लाजा पर रुकने की जरूरत नहीं होती है. 

2. कहां से खरीदें FASTag?
नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) ने इसके लिए देशभर में 40,000 से ज्यादा सेंटर बनाए हैं, जहां से आप इस जरूरी दस्तावेज FASTag खरीद सकते हैं. वहीं एयरटेल पेमेंट बैंक(Airtel Payment Bank), पेटीएम (Paytm) और अन्य डिजिटल प्लेटफॉर्म से भी इसे खरीदा जा सकता है.

3. आखिर कितनी है FASTag की कीमत?
नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने फास्टैग की कीमत 100 रुपये तय की है. इसके अलावा 200 रुपये की सिक्युरिटी डिपॉजिट देनी पड़ती है.

4. कैसे खरीदें  FASTag?
पेटीएम और एयरटेल पेमेंट बैंक पर फास्टैग खरीदने के लिए अलग से टैब उपलब्ध कराया गया है. आपको बस करना इतना है कि उस टैब पर क्लिक करके अपने वाहन का रजिस्ट्रेशन नंबर डालना है और साथ में रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (RC) की दोनों साइड की इमेज अपलोड करनी है. उसके बाद आप पेमेंट करके FASTag ऑनलाइन खरीद सकते हैं. कई जगहों पर टोल के करीब बने पोस्ट पर FASTag लगवाने के इंतजाम किए गए हैं.  

5. कमर्शियल गाड़ियों के लिए भी FASTag जरूरी?
देश में व्यावसायिक वाहनों यानी कमर्शियल गाड़ियों पर पीली नंबर प्लेट लगी होती है. ऐसे में अगर आपके पास भी कोई कमर्शियल गाड़ी है वो फिर चाहे ट्रक हो या कैब तो ऐसे में हाइवे पर टोल प्लाजा से गुजरने के लिए उसमें भी FASTag लगा होना चाहिए. 

6. एक्सप्रेसवे पर भी करेगा काम?
देश में कुछ एक्सप्रेसवे प्राइवेट हैं, लेकिन टोल टैक्स जुटाने की प्रणाली को एकीकृत करने के लिए उन्हें भी FASTag से जोड़ दिया गया है. यमुना एक्सप्रेसवे पर भी FASTag से ही टोल संग्रह किया जा रहा है. यमुना एक्सप्रेसवे पर निजी और कमर्शियल व्हीकल का टोल FASTag से जुटाया जा रहा है जबकि 2-व्हीलर्स के लिए कैश लेन बनी हुई है.

7. बैंक से जोड़ने पर क्या फायदा होगा?
FASTag को यदि आप बैंक खाते से जोड़ देतें हैं तो बार-बार रिचार्ज कराने के झंझट से मुक्ति मिल जाएगी. ऐसा करने से आपके टोल प्लाजा पार करने पर खाते से पैसे खुदबखुद कट जाएंगे और आपको एसएमएस से इसकी जानकारी मिल जाएगी. बैंक केवाईसी के लिए यूजर्स के पैन कार्ड और आधार कार्ड की कॉपी भी मांगते हैं. 

8. क्या नाके पर देना होगा स्पीड पर ध्यान?
FASTag वाले वाहन जब भी टोल प्लाजा से गुजरें तो उनकी रफ्तार 25 से 30 किलोमीटर प्रति घंटा होनी चाहिए. गाड़ी को टोल प्लाजा पर रोकना नहीं चाहिए, यदि टोल प्लाजा से बहुत धीरे गाड़ी निकालते हैं तो बूम बैरियर से टकरा सकते हैं क्योंकि एक निश्चित समय के बाद वह बैरियर गिर जाता है. यदि आपका FASTag नहीं पढ़ा जाता है तो टोल प्लाजा कर्मी से बात करें वह हैंडहेल्ड मशीन से FASTag रीड कर देगा.

9. फटने या खराब होने पर क्या होगा?
अक्सर लोगों की चिंता होती है कि अगर उनका FASTag गुम हो गया या फट गया तो क्या होगा. तो सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने इसका भी समाधान निकाला है. मंत्रालय के मुताबिक एक वाहन के लिए केवल एक FASTag मिलता है. अगर FASTag डैमेज हो जाए तो आप आसानी से उसे बदल सकते हैं. मंत्रालय से मिली जानकारी के मुताबिक एक गाड़ी के लिए केवल एक FASTag नंबर जारी होता है, जिसमें गाड़ी का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (RC), टैग आईडी समेत दूसरे डिटेल्स भरने होते हैं. ऐसे में केवल पुरानी डिटेल देकर फिर से FASTag को इश्यू करवाया जा सकता है.

10. क्या महंगा होगा 2-व्हीलर का सफर?
सबसे जरूरी सवाल ये भी है कि क्या दो पहिया चालकों को भी FASTag लगवाना जरूरी होगा तो बता दें कि FASTag की अनिवार्यता से दोपहिया वाहनों को दूर रखा गया है. NHAI के हाइवे पर दोपहिया वाहनों पर टोल नहीं लगता है. ऐसे में आपकी 2-व्हीलर से होने वाली कोई भी ट्रिप अब भी सस्ती ही रहेगी. यानी आपको टेंशन लेने की जरूरत नहीं है. वहीं अगर आप नेशनल हाइवे से जा रहे हैं तो आपके लिए वहां फ्री-लेन से जाने की सुविधा होगी.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

%d bloggers like this: